जेएनएन, कुल्लू: जिला कुल्लू के निरमंड क्षेत्र की सबसे कठिनतम यात्रा में शुमार श्रीखंड यात्रा में जाने वाले श्रद्धालुओं की रफ़तार थम गई है। सुबह पांच बजे से ही जाओं नामक स्थान पर बारिश से भारी भू-स्खलन होने से मार्ग अवरूद्व हो गया है। मार्ग में भू-स्खलन होने से मार्ग में वाहन भी फंसे हुए हैं जिन्हें निकालने के लिए लोक निर्माण विभाग के कर्मचारी जुट गए हैं। हालांकि अभी मार्ग को बहाल करने में समय लगेगा।

रविवार को श्रीखंड यात्रा पर 705 यात्रियों का पंजीकरण हुआ था लिहाजा सुबह पांच बजे से ही यात्री श्रीखंड महादेव के दर्शन के लिए जाना चाहते थे लेकिन निरमंड के जाओं में मार्ग अबरूद्व होने के कारण दर्जनों वाहन जाओं में ही फसे रहे। जिस कारण श्रदालु श्रीखंड की यात्रा में नहीं जा सके। यात्रियों ने जिला प्रशासन से मांग की है कि जल्द से जल्द मार्ग को बहाल किया जाए और श्रदालुओं के जाने के लिए व्यवस्था की जाए।

श्रीखंड यात्रा में आए पंजाब, दिल्ली के श्रद्धालु फंसे

श्रीखंड यात्रा के लिए जाओं के पास दिल्ली, पंजाब, हिमाचल के कोने कोने से श्रदालु सुबह पांच बजे से जाओं में ही फसे हुए हैं। बताया जा रहा है कि जाओं में अभी करीब एक दर्जन से ज्यादा छोटे वाहन मार्ग में फंसे हुए हैं। इन श्रद्धालुओं ने मार्ग बहाल करने की मांग की है।

जाओं के पास मार्ग में भारी भू स्खलन होने से यात्री फंसे हुए हैं। लोक निर्माण विभाग को निर्देश जारी कर दिए हैं कि मार्ग को जल्द से जल्द बहाल किया जाए।