टेंट हाउस के बर्तन लौटाने को लेकर हुई तकरार मारपीट में बदली, घायल युवक की मौत, हत्या का केस दर्ज

हरियाणा के करनाल में टेंट हाउस लगाने वाले दो कर्मियों पर जाटो गेट निवासी हलवाई युवक की पीटकर हत्या करने का आरोप है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया, लेकिन परिजनों ने शव लेने से इनकार कर दिया है और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर परिजनों ने शवगृह के बाहर धरना शुरू कर दिया।परिजनों का आरोप है कि 25 वर्षीय प्रदीप ने हलवाई के काम के लिए बर्तन लिए थे। बर्तन लौटाने को लेकर हुई तकरार मारपीट में बदल गई। मारपीट में लगी चोटों के कारण इलाज के दौरान प्रदीप की मौत हो गई।मृतक के चाचा राजेश के अनुसार प्रदीप हलवाई का काम करता था। हलवाई के काम के लिए वह सैनी टेंट हाउस से बर्तन लेता रहता था। 15 दिन पहले लिए कुछ बर्तन वह वापस नहीं दे सका। इसको लेकर उनके बीच तकरार चल रही थी।सात जनवरी को टेंट वाले दीपू और राजिंद्र हलवाई प्रदीप को घर से बुलाकर गोदाम में ले गए। वहां पर उसके साथ मारपीट कर दी जिससे उसके सिर में चोट आई थी। परिजन उसे उपचार के लिए मेडिकल कॉलेज में लाए थे। जहां उसकी मंगलवार देर रात इलाज के दौरान मौत हो गई। युवक की मौत के बाद शवगृह के बाहर परिजनों ने हंगामा भी किया।घर से बुलाकर ले गए, फिर स्कूटर छोड़ने भी घर आए

मृतक प्रदीप की मां मीना ने बताया कि सात जनवरी को घर से दो लोग आकर उसे ले गए थे। प्रदीप उनके साथ अपने स्कूटर पर गया था। शाम छह बजे आरोपी उसका स्कूटर घर छोड़ गए। जब उनसे बेटे के बारे में पूछा तो कहा कि उसका पता नहीं है। रात को प्रदीप घर आया तो डरा हुआ था। सुबह तबियत बिगड़ी तो उसे मेडिकल कॉलेज में लेकर गए। उपचार के दौरान बताया कि उसको बहुत ज्यादा पीटा गया है।