गरीबों की जमीनों पर अवैध कब्जा करने वालों के खिलाफ करें कड़ी कार्रवाई: योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अवैध कब्जों को शिकायतों को लेकर बहुत गंभीर देखें और उन्होंने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए कि किसी भी गरीब की जमीन पर कोई माफिया और बाहुबली अवैध कब्जा ना कर पाएं।

    दो दिनों के दौरे पर गोरखपुर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार की सुबह गोरखनाथ मंदिर में जनता दर्शन के दौरान लोगों की समस्याएं सुनने के बाद ये निर्देश दिया और जनता को शीघ्र निस्तारण का भरोसा दिलाया।

      हिन्दू सेवाश्रम में पहुंचे करीब दो सौ से ज्यादा फरियादियों से मुख्यमंत्री योगी ने मुलाकात की। अधिकतर लोगों की समस्या भूमि विवाद और अवैध कब्जे की होने की रही। जंगल कौड़िया ब्लाक के कुसहरा निवासी पवन सिंह ने कहा कि उनकी जमीन पर दूसरे लोग अवैध कब्जा कर रहे हैं। इस पर मुख्यमंत्री योगी ने साथ चल रहे अधिकारियों को तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए। कुछ ऐसी ही समस्या खोराबार क्षेत्र के रायगंज निवासी भागवत यादव की भी थी। उन्होंने भी मुख्यमंत्री योगी से मनबढों द्वारा खुद की जमीन पर कब्जा करने की शिकायत की थी। इसके अलावा पीएम आवास, छात्रवृत्ति न मिलने से जुड़ी भी समस्याएं मुख्यमंत्री के सामने लोगों ने रखी। सीएम सभी की समस्या सुनते हुए प्रार्थना पत्र अधिकारियों के अधिकार क्षेत्र के हिसाब से सौंपते रहे और कार्रवाई के लिए जरूरी दिशा निर्देश देते रहे।

पैसों के अभाव में नहीं रुकेगा किसी का इलाज

सीएम योगी के सामने पहुंचने वाली काफी शिकायतें पुलिस और राजस्व से जुड़ी रही तो इलाज के लिए भी मदद मांगने की करीब दर्जन भर फरियाद मुख्यमंत्री के सामने पहुंची। उन्होंने वहां मौजूद अधिकारियों को निर्देशित​ किया कि पैसों के अभाव में किसी का इलाज नहीं रुकना चाहिए। जबकि फरियादियों से कहा कि वे अपना अस्पतालों से इस्टीमेट बनवाकर भेंजे। सभी की मदद की जाएगी।

जनता दर्शन  में पहुंचे थे 800 से अधिक फरियादी

रविवार को जनता दर्शन में 800 से अधिक लोग आए थे। हिन्दू सेवाश्रम में मौजूद करीब 200 लोगों की समस्याओं को मुख्यमंत्री योगी ने सीधे सुना। वहीं करीब 600 लोगों को की समस्याओं को यात्री निवास में अधिकारियों ने सुना। मंदिर परिसर का भ्रमण करने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ जनता दर्शन हिन्दू सेवाश्रम पहुंचे। हिन्दू सेवाश्रम में स्वयं शिकायतें सुनी। मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जमीन की पैमाइश और राजस्व संबंधी मामलों का तहसीलों में निस्तारण तेज किया जाए। जहां जरूरत पड़े पुलिस बल भी साथ लिया जाए। उन्होंने थानों और तहसीलों में समस्याओं के गुणवत्तापूर्ण समाधान के प्रति अधिकारियों को निर्देशित किया। इस दौरान कमिश्नर रवि कुमार एनजी, जिलाधिकारी विजय किरन आनंद, एसएसपी डा विपिन टाडा मौजूद रहे।

इसके अलावा रविवार की सुबह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरु गोरखनाथ का दर्शन एवं पूजन किया। उसके बाद अखण्ड ज्योति का दर्शन कर ब्रह्मलीन गोरक्षपीठाधीश्वर द्वय महंत दिग्विजयनाथ एवं महंत अवेद्यनाथ की समाधि पर माथा टेक कर आशीर्वाद लिया। उसके बाद गोशाला में पहुंच कर तकरीबन 20 मिनट तक गोशाला में सेवा की।