स्थलों पर कटे 85 फीसदी चालान

वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए लागू ग्रैप के नियमों की सबसे ज्यादा अवमानना निर्माण स्थलों पर हो रही है। यहां निर्माण के बाद मलबे को खुले में फेंका जा रहा है। इसके अलावा पानी का भी छिड़काव नहीं हो पा रहा है। एक नवम्बर से 29 नवम्बर तक नगर निगम की तरफ से की गई कार्रवाई रपोर्ट इसकी तस्दीक करती है। इनमें 85 फीसदी चालान निर्माण स्थल पर नियमों की अवमानना करने को लेकर काटे गए हैं।

 हरियाणा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने भी सोमवार को निर्माण स्थल पर नियमों का पालन नही करने पर सरकारी विभागों को 60 लाख रुपए का नोटिस दिया है।

बेहद खराब श्रेणी में रही स्मार्ट सिटी की हवा

स्मार्ट सिटी का वायु प्रदूषण कम नही हो रहा। मंगलवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक का स्तर 331 रहा। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के जारी बुलेटिन में यह हालत उजागर हुए। बल्लबगढ़ मे भी वायु प्रदूषण फिर बढा है। यहां वायु गुणवत्ता सूचकांक का स्तर 317 रहा।