भोपाल में जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम की खास तैयारियां शुरू, प्रधानमंत्री मोदी लेंगे हिस्सा

मध्य प्रदेश में आगामी 15 नवंबर को बिरसा मुंडा की जयंती को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाया जा रहा है, जिसमें भाग लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी भोपाल पहुंचने वाले हैं.

जोर-शोर से चल रही हैं तैयारियां

इस आयोजन को जोर-शोर से मनाए जाने की तैयारियां भी शुरू हो चुकी है. इसी को लेकर अनुसूचित जनजाति मोर्चा की बैठक भी आयोजित की गई. इस बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि हमें यह प्रयास करना है कि प्रदेश के हर क्षेत्र के जनजातीय बंधु इस आयोजन में अपनी पारंपरिक वेशभूषा में शामिल हों

जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाई जाएगी जयंती

बैठक को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि 15 नवंबर को बिरसा मुंडा की जयंती को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाया जाएगा. इसके लिए पंचायतों से लेकर राजधानी तक तैयारियां की जाएंगी. उन्होंने कहा कि जनजातीय गौरव दिवस पर अनेक कार्यक्रमों का आयोजन होगा, जिनकी सफलता और प्रचार-प्रसार के लिए पार्टी कार्यकर्ता और पदाधिकारी

योजना बनाकर काम करें.

सरकार के स्तर की हो रही है तैयारी

इस आयोजन को लेकर सरकार के स्तर पर तैयारियां की जा रही हैं, लेकिन पार्टी संगठन भी इस आयोजन को लेकर सरकार के साथ समन्वय से काम करेगा. जनजातीय गौरव दिवस के आयोजन पर केंद्रित अनुसूचित जनजाति मोर्चा की बैठक में प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत ने पदाधिकारियों से विस्तार से चर्चा की. उन्होंने इस संबंध में किए गए कार्यों की समीक्षा की तथा विभिन्न कार्यक्रमों को लेकर पदाधिकारियों को जिम्मेदारियां भी सौंपी.

बैठक में उपस्थित रहे महामंत्री

बैठक में प्रदेश सह संगठन महामंत्री हितानंद मध्यप्रदेश शासन के मंत्री बिसाहूलाल सिंह, मीना सिंह, सांसद सुमेर सिंह सोलंकी, श्री गुमान सिंह डामोर, डीडी उइके, भाजपा प्रदेश मंत्री जयदीप पटेल सहित अनुसूचित जनजाति मोर्चा के पदाधिकारी गण उपस्थित थे.