फ्री राशन : जानिए वजह, क्यों ठप हो गया तेल, नमक और चना का वितरण?

राज्य सरकार ने दिसम्बर 2021 से मार्च 2022 तक चार माह के लिए नि:शुल्क गेहूं – चावल के साथ ही प्रति कार्डधारक एक लीटर रिफाइंड तेल व एक-एक किलो चना व नमक फ्री वितरित किए जाने का फैसला लिया। नि:शुल्क वितरण के लिए आए पैकेटों पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फोटो छपी है।  पैकेट पर टैग लाइन – सोच ईमानदार, काम दमदार भी प्रिंट है। दिसम्बर में इन्हीं पैकेटों का वितरण हुआ। जनवरी में वितरण देरी से शुरू हुआ वहीं शनिवार को आचार संहित भी लग गई। डीएसओ सुनील कुमार सिंह ने बताया कि फोटो व टैग लाइन वाले पैकेट के वितरण पर रोक लगा दी गई है।

शनिवार को खाद्य आयुक्त सौरभ बाबू की ओर से सभी जिलाधिकारी व डीएसओ को पत्र भेजकर बिना फोटो व बिना टैग लाइन वाली पैकेट ही उपभोक्ताओं को  वितरित किए  जाने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही कोटेदारों को भी बिना फोटों वाले पैकेट भेजने को कहा है। उन्होंने आदर्श आचार संहिता का शतप्रतिशत अनुपालन कराया जाने को कहा है।