प्रेमिका बोली- पहले मेरे पति की हत्या करो, फिर शादी करूंगी

बहन से मिलकर प्रेमी के हाथों जीजा की हत्या कराने के बाद विवाहिता ने पूरी वारदात की वीडियो बनवाई थी, जिसके बाद उसने प्रेमी को पति की हत्या के लिए भी कहा। साथ ही पति को रास्ते से हटाने के बाद ही शादी की शर्त रखी, जब प्रेमी इसके लिए तैयार नहीं हुआ तो विवाहिता ने उसे जीजा की हत्या में फंसाने की धमकी दी। इसके बाद भी जब प्रेमी हत्या करने के लिए राजी नहीं हुआ तो बहन के माध्यम से पुलिस को शिकायत दिलाई। पुराना औद्योगिक थाना पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद जब आरोपी प्रेमी को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो खौफनाक साजिश और हत्या की परतें खुलती चली गईं। मूलरूप से करनाल के दाहा-बछिदा निवासी अशोक (मृतक) भारत नगर में रहता था। तीन भाइयों में वह सबसे छोटा था। उसका सबसे बड़ा भाई बिजेंद्र और मंझला भाई राजू है। तीनों शादीशुदा हैं। अशोक की पत्नी सोनू और राजू की पत्नी ऊषा दोनों सगी बहनें हैं।दीपक और ऊषा का रिश्ता करीब होता चला गया। दूसरी ओर अशोक की पत्नी सोनू के भी किसी अन्य युवक के साथ अवैध संबंध थे। अशोक के नाम एक प्लॉट था, जिस पर सोनू और उसकी बहन ऊषा की नजर थी।इसके तहत 19 सितंबर की रात पत्नी सोनू ने पति अशोक को फोन किया और कहा कि दीपक उसे प्लॉट के मामले में कुछ प्रॉपर्टी डीलरों से मुलाकात कराएगा। अशोक ने मना किया लेकिन पत्नी ने कहा कि हम प्लॉट नहीं बेचेंगे लेकिन एक बार दीपक से मिल लो। वह उनका काबड़ी रोड पर इंतजार कर रहा है। पत्नी की बात मानते हुए अशोक दीपक के पास गया और वह उसे नहर पर ले गया, जहां पर दीपक ने दो दोस्तों के साथ अशोक की हत्या कर दी। 

यह दी थी झूठी शिकायत
पुराना औद्योगिक पुलिस को दी शिकायत में भारत नगर निवासी अशोक की पत्नी सोनू ने बताया था कि सफीदों के गांव करसिंधू निवासी दीपक का उनके घर पर आना-जाना लगा रहता था। वर्ष 2021 में जून में उसके पति अशोक और दीपक की कहासुनी हो गई थी।