केंद्रीय एजेंसियों ने पंजाब सरकार को किया आगाह, भाजपा में शामिल नेताओं की सुरक्षा बढ़ी

पंजाब विधानसभा चुनाव को महज 30 दिन बचे हैं और आतंकी किसी बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते हैं। ऐसी आशंका केंद्रीय खुफिया एजेंसियों ने पंजाब सरकार से जाहिर की है। इस संबंध में केंद्रीय व राज्य सरकार की खुफिया एजेंसियों को हाई अलर्ट जारी कर सुरक्षा चाक चौबंद करने के आदेश जारी किए गए हैं।आईबी के उच्च पदस्थ सूत्रों के मुताबिक कट्टरपंथी संगठन कट्टरपंथियों को रिहा कराने और पंजाब में खालिस्तान बनाने की मांग कर रहे हैं। इसके अलावा सिख फॉर जस्टिस के गुरपतवंत सिंह पन्नू युवाओं को पैसों का लालच देकर भाजपा और पीएम मोदी के खिलाफ भड़का रहा है। वह लगातार अमेरिका, कनाडा से ऑडियो कॉल मैसेज जारी कर रहा है, जिससे पंजाब में स्लीपर सेल भी गठित हो चुके हैं। 

भाजपा के बड़े नेताओं की सुरक्षा बढ़ी

पंजाब में टिफिन बम बरामद भी हो चुके हैं। आईबी के इनपुट पर केंद्र ने पंजाब के भाजपा चुनाव प्रभारी केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को जेड प्लस सुरक्षा प्रदान कर दी है, वहीं अकाली दल के पूर्व डिप्टी सीएम सुखबीर बादल के ओएसडी परमिंदर बराड़ को वाई सुरक्षा दी गई है। पूर्व मंत्री राणा सोढ़ी को भी पहले ही जेड सुरक्षा कवच दिया जा चुका है, जो कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे। प्रचार में दिल्ली से मनजिंदर सिरसा भी पंजाब आ रहे हैं, उन्हें जेड सुरक्षा कवच दे दिया गया है। केंद्रीय रिजर्व पुलिस के 18 जवानों की तैनाती सिरसा के साथ की गई है।